कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के दो दिवसीय असम दौरे की कमान विकास उपाध्याय ने संभाली

असम(गुवाहटी)। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय के प्रभार वाले अपर असम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का कल से दो दिवसीय दौरा कार्यक्रम तय होने के बाद विकास उपाध्याय ने इसकी तैयारियों को लेकर अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। ज्ञांतव्य हो कि प्रदेश में अपर असम ही ऐसा क्षेत्र है जहां से कांग्रेस की सरकार में वापसी होना या न होना तय करेगी।इसके महत्व को देखते हुए पार्टी हाई कमान ने हार्ड वर्कर के रुप में जाने जाने वाले विकास उपाध्याय को इस चुनौती भरे क्षेत्र की जिम्मेदारी सौपी है। राहुल गांधी भी अपने प्रथम प्रवास में इस क्षेत्र के शिवसागर में सभा ले चुके हैं। बहरहाल विकास उपाध्याय प्रियंका गांधी के कल से दो मार्च तक निर्धारित दो दिन के विभिन्न कार्यक्रमों को सफल बनाने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ युद्ध स्तर पर लग गये हैं और वे लगातार कांग्रेस महासचिव जितेन्द्र सिंह को इसका रिपोर्ट दे रहे हैं।

विकास उपाध्याय को असम चुनावों में पार्टी हाईकमान द्वारा महत्तवपूर्ण जिम्मेदारी दिये जाने के पश्चात् ही बहुत कम समय में वे असम कांग्रेस को सक्रिय करने में सफल हो गये हैं। लगातार उनके द्वारा जमीनी स्तर पर किये जा रहे कार्यो का मूल्यांकन दिल्ली तक हो रहा है, इतना ही नही असम की जमीनी हकीकत को भी देखें तो इस बात का बयां कर रही है कि इस चुनाव में कांग्रेस की वापसी तय है और यह रास्ता तय होगा अपर असम के 37 विधानसभा क्षेत्र से जहाँ हार या जीत प्रदेश में सरकार किसकी बन रही है यहीं से तय होगा। राहुल गांधी का प्रथम कार्यक्रम इसी क्षेत्र में सफलता पूर्वक संपन्न हुआ तो कांग्रेस नेताओ के बिच यह बात चर्चा में आ गया कि विकास उपाध्याय कि मेहनत रंग ला रही है और जिस तरह से प्रियंका गांधी का दो दिवसीय कार्यक्रम इसी क्षेत्र में विकास उपाध्याय के जिम्मेदारी में है निश्चित तौर पर उनके खुद के लिये भी यह एक बड़ी राजनैतिक उपलब्धि है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एक मार्च को असम पहुँच कर मां कामांख्या का दर्शन करने के पश्चात अपर असम के विभिन्न विधान सभा क्षेत्रों को कवर करने कई कार्यक्रमों को उसी लिहाज से रखा गया है। प्रियंका गांधी इस बीच लखिमपुर जिला के अंतर्गत प्रदेश,जिला व ब्लॉक स्तर के कांग्रेस कार्यकर्ता एवं वरिष्ठ कांग्रेसियों के साथ बैठक करेंगी जिसमें दस जिला से कांग्रेस के लोग लखिमपुर में एकत्र होगें। इसके साथ ही वे बेरोजगारी को लेकर युवाओं के बीच प्रियंका गांधी स्वयं प्रोटेस्ट करने इसकी शुरुआत करेंगी। इसके लिये विकास उपाध्याय ने पहले से ही तैयारी कर रखी है और बड़े स्तर में “मोदी रोजगार दो” और “मोदी जांब दो” जैसे हैशटैग्स के साथ पूरे क्षेत्र को सुर्खियों में ला दिया है जिसमें मोदी सरकार से नौकरी की मांग की जा रही है। विकास उपाध्याय ने बताया थिंक टैंक सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी (सीएमआईई) के हालिया आंकड़े बताते हैं कि जनवरी 2021 में देश में बेरोज़गारों की तादाद क़रीब 4 करोड़ है। विकास ने कहा,इस संख्या में दो तरह के बेरोज़गार शामिल हैं, वो जो सक्रिय रूप से नौकरी की तलाश में हैं और वो भी जो नौकरी नहीं ढूंढ रहे हैं.और मोदी की भाजपा सरकार इसे दूर करने पूरी तरह से असफल साबित हो गई है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी दो मार्च को भी लगातार कार्यक्रमो में सम्मिलित होगी और विश्वनाथ विधानसभा जिले के अंतर्गत सधारु चाय बागानों से जुड़े महिला मजदूरों से भी मुलाकात करेंगी। वे इस बीच प्रसिद्व महाभैरवी मंदिर तेजपुर जिला में दर्शन कर तेजपुर में एक बडी जनसभा को संबोधित करेंगी। इन दो दिवसीय पूरे कार्यक्रम में असम के प्रभारी व राष्ट्रीय महासचिव जितेन्द्र सिंह पूरे समय प्रियंका जी के साथ सम्मिलित रहेंगे।जनसभा में लाखों की संख्या में जनसमुदाय उपस्थित होने की संभावना है। विकास उपाध्याय ने प्रियंका गांधी के कार्यक्रमों की तैयारी के बीच कहा,प्रियंका गांधी के दौरे के बाद असम कांग्रेस में और भी सक्रियता आएगी और आम जनता का कांग्रेस के प्रति जुड़ाव बढेगा।

Total Views: 178 ,

Related posts

Leave a Comment