बस्तर के किसान को आबंटित राजस्व जमीनों में स्वामित्व कब्जे ,विभागीय निर्माण में मजदूरी भुकतान का गुहार लगाते हुए त्रस्त ,वन व राजस्व विभाग आपसी खींचतान में व्यस्त-मुक्तिमोर्चा/जनता कांग्रेस जे

बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा व जनता कांग्रेस जे के नेतृत्व में जगदलपुर जनपत के धनियालूर के किसानों के राजस्व जमीन पर वन विभाग के अवैध कब्जे,तो वही बकावण्ड ब्लाक के कोसमी के मजदूरों को 2 वर्ष से मजदूरी भुकतान विलंभ जैसे मामलों को लेकर वन मंडल अधिकारी व एस डी ओ से चर्चा कर सौपा ज्ञापन-नवनीत चाँद/नीलाम्बर सेठिया/नीलाम्बर भद्रे/अजय बघेल/प्रीतम नाग*

क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की उदासनिता ,विभागीय जिमेदारो की लापरवाही भरे कार्य शैली के चलते ,बस्तर के किसानों व मजदूरों के साथ हो रहा अन्याय-नवनीत चाँद

बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के मुख्य सयोंजक व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के जगदलपुर शहर अध्यक्ष नवनीत चाँद के नेतृव व बकावण्ड मंडल अध्यक्ष नीलाम्बर भद्रे ,जिला उपाध्यक्ष नीलाम्बर सेठिया,जगदलपुर ग्रामीण अध्यक्ष अजय बघेल ,उपाध्यक्ष प्रितम नाग की सयुक्त अध्यक्षता में आज जनपद पंचायत जगदलपुर ब्लाक के अन्तर्ग ग्राम पंचायत धनियालूर के किसानों को राजस्व पट्टा आबंटन के पश्चात भी वन विभाग द्वारा वन सीमा क्षेत्र में अतिक्रमण बता किसानों को कब्जा बेदखली के विरोध,व बकावण्ड ब्लाक के कोसमी ग्राम पंचायतों में वन विभाग द्वारा वर्ष 2019 से निर्माण कार्यो के लगे मजदूरों का मजदूरी भुकतान आज पर्यन्त तक विलंब के निराकरण व सम्पूर्ण घटना कर्म में जांच की मांग को लेकर जगदलपुर वन मण्डल अधिकारी व एस डी ओ से चर्चा कर ज्ञापन सौपा ,वही मुक्तिमोर्चा के मुख्य सयोंजक व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के जगदलपुर शहर अध्यक्ष नवनीत चाँद ने ज्ञापन के उद्देश्य को बताते हुए कहा कि क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की क्षेत्र के निवाशियो की समस्याओं के प्रति उदासीन रवैया व विभागीय जिमेदारो के द्वारा अपने कर्तव्य के प्रति लचर कार्य शैली के चलते के बस्तर जिले के वन विभाग सीमा से लगे ग्राम पंचायतों के किसानों को अपनी राजस्व जमीन में पट्टा आबंटन के पश्चात भी राजस्व व वन विभाग की आपसी सीमा खींचतान को लेकर कब्जा से बेदखली की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। तो वही विभागीय रेंज जिमेदार अधिकारियों द्वारा निर्माण कार्य मे मजदूरी करवाये गए मजदूरों को वर्ष 2019 से मजदूरी का भुकतान नहीं किया जाना विभागीय गम्भीर लापरवाही को दर्शाता है।पूर्व भी गांव में जंगल सीमा को लेकर वापसी विवाद को लेकर वर्ग संघर्ष जोरो पर है।वन संपदा पर वन ग्राम के अधिकारों का भी हनन ग्राम पंचायतों के निवाशियो के लिए रोजगार का संकट खड़ा कर रहा है। तो वही दरभा ब्लाक के चिड़पाल ग्राम पंचायत में वन विभाग की आपत्ति के चलते सी सी सड़क के निर्माण कार्यो से ग्राम वासी विकास के लाभ से वंचित है।यदि ज्ञापन के बिदुओं पर विभाग द्वारा समय उपरांत ध्यान आकर्षित कर समस्याओं का निवारण नहीं किया तो मुक्तिमोर्चा व जनता काँग्रेस जे के नेतृव में ग्राम वासी आंदोलन को विवश होंगे,इस दौरान जिला उपाध्यक्ष नीलाम्बर सेठिया,जगदलपुर ग्रमीण ब्लाक अध्यक्ष अजय बघेल, बकावण्ड मण्डल अध्यक्ष नीलाम्बर भद्रे,उपाध्यक्ष प्रितम नाग,जगदलपुर शहर महामंत्री ओम मरकाम,भुजवल बघेल,संतोष कश्यप,पदमनाथ बघेल,दयतारी, केला कश्यप, वशुदेव बघेल,दशरथी मौर्य, सम्पत बघेल,मधेव बघेल, रामलाल, गुड्डू राम,राम नाथ,दुर्जो,शंकर,मानसिंह,बलराम,कैलास,अनन्तराम,सत्यनारायण ,शामनाथ,बल्दर,कमचोलन, रमानाथ, सम्पत्ति सोनाधर, मुन्ना बघेल,आदि कार्यकर्ता व ग्राम वाशी ,किसान उपस्थित थे।

Total Views: 441 ,

Related posts

Leave a Comment