केंद्र की चाटुकारिता में भाजपा नेता राज्य के हितों के खिलाफ खड़े है

राज्य के बारदाना के लिये रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, विष्णु देव साय कब केंद्र से पहल करेंगे – कांग्रेस

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा बारदाना के संबंध में प्रधानमंत्री को लिखे गये पत्र के बारे में भारतीय जनता पार्टी द्वारा दिये गये बयानों को कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ के भाजपा के नेता अपनी केंद्र सरकार के बचाव में राज्य के किसानों के हितों के खिलाफ बयान दे रहे है। भाजपा नेता बतायें कि वे धान खरीदी के लिये छत्तीसगढ़ को बारदाने की जरूरत से सहमत है या नहीं? अभी तक किसी भी भाजपा नेता केंद्र सरकार से राज्य सरकार को उसके द्वारा मांगे गये बारदानों की आपूर्ति के लिये पहल क्यों नहीं किया? रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, विष्ण देव साय बतायें कि राज्य को बारदाना की आपूर्ति के लिये प्रधानमंत्री को कब पत्र लिख रहे है? भाजपा के 9 सांसद प्रधानमंत्री, केंद्रीय खाद्य मंत्री से बारदाना दिलाने कब पहल करेंगे? राज्य सरकार पर राजनीति करने का झूठा आरोप लगा कर छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता न सच्चाई को झुठला सकते है और न अपनी जवाबदारी से बच सकते है।
कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि राज्य में इस वर्ष 105 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी होनी है। इसके लिये 5.25 लाख गठान बारदानों की जरूरत है इसके लिये 2.14 लाख नये बारदानों की स्वीकृति दी है। 5.25 लाख गठान बारदानों की जरूरत होगी। इसमें से 2.14 लाख गठान नये बारदाने जूट कमिश्नर कोलकाता के माध्यम से खरीदने की अनुमति केंद्रीय खाद्य मंत्रालय ने दिया है। इसके लिये तत्काल छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी समिति ने 2.14 गठान के लिये इंडेन्ट (आपूर्ति आर्डर) जारी किया गया। जिसके विरूद्ध अभी तक छत्तीसगढ़ मात्र 86855 गठान बारदाना दिया गया है। जबकि अभी तक 1.5 लाख गठान मिल जाना था। केंद्र का यह रवैया छत्तीसगढ़ विरोधी नहीं है और क्या है?

Total Views: 802 ,

Related posts

Leave a Comment