रायपुर पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया, 4 लोगों को किया गिरफ्तार

रायपुर। क्रेडिट कार्ड से लाखो रूपये की ठगी करने वाले 4 अंतर्राज्यीय आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के मुताबिक प्रार्थी विज्ञान कुमार जैन ने थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह D/135 M-R- Colony शैलेन्द्र नगर में रहता है। प्रार्थी को दिनांक 08.07.2022 को अज्ञात मोबाइल नंबर 8112986505 के धारक द्वारा उसके मोबाइल नंबर 9826122563 पर फोन कर क्रेडिट कार्ड उपयोग नही करने के बारे में पूछा गया, तब प्रार्थी द्वारा बताया गया कि वह अपना क्रेडिट कार्ड बंद करवाना चाहता है।

जिस पर अज्ञात मोबाईल नम्बर के धारक द्वारा बोला गया कि वह क्रेडिट कार्ड बंद कर देगा तथा कुछ समय पश्चात् प्रार्थी के मोबाईल पर ओ.टी.पी. का मैसेज आया जिसे अज्ञात मोबाईल नम्बर के धारक द्वारा ओटीपी प्राप्त कर करीबन 1,89,000/- रू0 की धोखाधड़ी कर ठगी किया गया जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना कोतवाली में अपराध क्रमांक 224/22 धारा 420 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। लाखों रूपये ठगी की घटना को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा गंभीरता से लेते साइबर अपराधियों को पकड़ने हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर सुखनंदन राठौर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी के निर्देशित किया गया।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी के निर्देशन में एसीसीयू टीम को आरोपियों के संबंध में तकनीकी विश्लेषण कर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा आरोपी के मोबाईल नंबरो का तकनीकी विश्लेषण करने के साथ ही जिन खातोंध्क्रेडिट कार्डध्डेबिट कार्ड से प्रार्थी का रकम आहरित किया गया था, उन खातोंध्क्रेडिट कार्डध्डेबिट कार्ड के संबंध में भी संबंधित बैंकों से दस्तावेज व जानकारी प्राप्त की जाकर अज्ञात आरोपी की पतासाजी की जा रही थी। तकनीकी विश्लेषण में आरोपियों के संबंध में दिल्ली से काॅलर सेन्टर के माध्यम से लोगों के साथ ठगी करने की पूख्ता जानकारी प्राप्त हुई वरिष्ठ अधिकारियों की निर्देशन में तत्काल एसीसीयू टीम एवं थाना कोतवाली, रायपुर की सयुक्त टीम गठित कर दिल्ली के लिए रवाना किया गया। टीम द्वारा लगातार दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में केम्प कर दिलप्रीत सहित 04 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों ने पूछताछ पर बताया कि लोगों को फोन करके क्रेडिट कार्ड बंद कराने या लुभावने ऑफर देकर उन्हें अपनी बातों मे उलझाकर ओटीपी प्राप्त कर उनके खातों से रूपये की ठगी करते थे। काॅलर सेन्टर में बैंठकर फर्जी नंबरों से देश के अलग-अलग लोगों के साथ ठगी करना स्वीकार किया गया। आरोपीगण दिल्ली के अलग-अलग स्थानों मे रहकर दिखावे के लिए नौकरी करना बताये है। दिलप्रीत सिंह के निशानदेही पर 03 अन्य आरोपियों का दिल्ली के अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों द्वारा उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, के लोगों के साथ ठगी करना स्वीकार किया गया है।

उसी संबध में संबंधित राज्यों की पुलिस से संपर्क कर अग्रिम कार्यवाही की जाती है। प्रकरण में संलिप्त आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से घटना से संबंधित 05 नग मोबाईल फोन, 01 नग आईफोन, 07 नग ए.टी.एम., 01 नग आधार कार्ड एवं ठगी की नगदी रकम 5,000/- जप्त किया गया है। आरोपियों को तिलकनगर (दिल्ली) से गिरफ्तार कर ट्रांजिस्ट रिमाण्ड पर रायपुर लाया गया है। गिरफ्तार आरोपियों से अन्य घटनाओं के संबंध में भी विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

1. चेतन यादव पिता दुष्यंत यादव उम्र 29 साल निवासी गाजी, थाना सिकन्दराबाद जिला बुलंदशहर उ.प्र.।02. आलोक कुमार यादव उर्फ सचिन यादव पिता नेपाल सिंह यादव उम्र 26 साल निवासी ग्राम रथिपुरसिया थाना जंवा जिला अलीगढ़ (म.प्र.)।03. हिमांशु शुक्ला पिता अवधेश शुक्ला उम्र 21 साल ग्राम तुरकीपुर थाना औरेया, जिला औरेया (उ.प्र.) हाल पता- महिपालपुर, दिल्ली।04. दिलप्रीत सिंह पिता स्व. जरनैल सिंह उम्र 30 साल निवासी संतगढ़ तिलकनगर म.नं. डब्ल्यू जैड 74 ए थाना तिलकनगर दिल्ली।

Related posts

Leave a Comment