लग्जरी कार से ढाई क्विंटल चांदी की तस्करी, छत्तीसगढ़-ओडिशा बॉर्डर पर पकड़ाए, 2 तस्करों से मिले डेढ़ करोड़ के गहने

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में पुलिस ने डेढ़ करोड रुपये की चांदी के साथ 2 तस्करों को दबोचा है। तस्कर लग्जरी कार में चांदी को लेकर ओडिशा से छत्तीसगढ़ आ रहे थे। आरोपी चांदी को रायपुर में खपाने लेकर आ रहे थे। ओडिशा-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर तस्कर चेकिंग के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ गए। आरोपियों से लगभग 252 किलो चांदी की ज्वेलरी और कैश भी भरामद किया गया है। चांदी के गहनों को लेकर युवक कोई दस्तावेज नहीं दिखा सके। महासमुंद के रेहटीखोल चेक पोस्टर पर सालभर पहले भी तस्कर पकड़े गए थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मामला सिंघोडा थाना क्षेत्र का है।

महासमुंद एसपी भोजराम पटेल ने गुरुवार को तस्करी का खुलासा करते हुए बताया कि ओडिशा-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर रेहटीखोल चेक पोस्ट के पास पुलिस की एक टीम जांच कर रही थी। इस दौरान बरगढ़ की ओर से एक सफेद रंग की डस्टर कार आ रही थी। कार को पुलिस ने जांच के लिए रोका। कार में 2 लोग युवक सवार थे। पूछताछ करने पर उन्होंने अपना नाम रूचि पटेल और शिव कुमार गंधर्व बताया है। दोनों रायपुर के निवासी हैं। आरोपियों से कुल 251 किलो 900 ग्राम चांदी जब्त की गई है, जिसकी अनुमानित कीमत कीमत डेढ करोड़ से ज्यादा आकी गई है।

डिग्गी में रखे 20 बैग में चांदी के गहने भरे थे
एसपी भोजराम पटेल ने बताया कि पुलिस ने कार की डिग्गी खोली तब एक अटैची और 20 बैग मिले। बैग और अटैची में चांदी की पायल, करधन, बिछिया, ब्रेसलेट, ऐठी सहित तई तरह की गहने मिले। चांदी के संबंध में युवकों से दस्तावेज मांगे गए, लेकिन युवक दिखा नहीं पाए। युवकों ने बताया कि चांदी के जेवरों को रायपुर के ज्वेलरी शॉप ले जा रहे थे। पुलिस ने चांदी जब्त कर लिया। युवकों के पास से 72 हजार कैश व कार भी जब्त किया है। एसपी भोजराम पटेल ने बताया कि युवकों से पूछताछ की जा रही है। रायपुर के ज्वेलर्स की भी संलिप्तता हो सकती है, इसकी भी जांच की जाएगी।

सालभर पहले 1.76 करोड़ को मिली थी सिल्लियां
28 जून 2021 को भी महासमुंद पुलिस ने ओडिशा-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर एक लग्जरी कार में एक करोड़ 76 लाख रुपये की चांदी की सिल्ली व आभूषण की तस्करी करते हुए आगरा (उत्तर प्रदेश) के दो लोगों को पकड़ा। उनके पास से नकद पौने छह लाख रुपये भी जब्त किया गया था। दोनों आगरा से चांदी की सिल्ली व आभूषण लेकर ओडिशा बेचने गए थे। बिक्री के बाद बची चांदी की सिल्लियां लेकर वापस उत्तर प्रदेश लौट रहे थे। उस समय पर भी सिंघोड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट रेहटीखोल (ओडिशा बॉर्डर) के पास वाहनों की चेकिंग के दौरान डस्टर वाहन को पकड़ा गया था।

Related posts

Leave a Comment