गोरखपुर में पुलिस ने सपा नेता कपिलमुनि यादव सहित 5 बदमाशों की हिस्‍ट्रीशीट खोल दी है थानों पर दुराचारियों की लिस्‍ट में लिखा जाएगा नाम

गोरखपुर – गोरखपुर में पुलिस ने सपा नेता कपिलमुनि यादव सहित 5 बदमाशों की हिस्‍ट्रीशीट खोल दी है। अब उनका नाम दुराचारी की लिस्‍ट न सिर्फ थाने के बोर्ड पर होगा बल्कि पुलिस हमेशा उनकी निगरानी भी करेगी।

ये सभी बदमाश गोरखपुर के रामगढ़ताल, शाहपुर और खोराबार थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। एसएसपी डॉ.गौरव ग्रोवर के मुताबिक ये बदमाश लगातार आपराधिक वारदातों में शामिल हैं। 

इनकी हिस्‍ट्रीशीट खोली गई है-

46ए-अजय कुमार गुप्ता
गीता वाटिका घोषीपुरवा थाना शाहपुर के निवासी अजय गुप्ता पर 5 संगीन धाराओं में केस दर्ज है। अजय पर भी ज्यादातर केस चोरी का ही दर्ज है। शाहपुर पुलिस उसके ऊपर गैंगस्टर की कार्रवाई कर चुकी है। अब शाहपुर पुलिस हिस्ट्रीशीटर के रूप में निगरानी करेगी।

9ए – विनय उर्फ प्रिंस दूबे

विनय उर्फप्रिंस हाल मुकाम, मकान नंबर 2.ओ ब्लाक, कांशीराम कालोनी थाना रामगढ़ताल मूल पता, मीठाबेल थाना झंगहा का निवासी है। शाहपुर व राजघाट थाने में 14 केस दर्ज हैं। यह शातिर चोर है। ज्यादातर चोरी के मुकदमे ही दर्ज हैं। बेलीपार व खोराबार से उसके ऊपर गैंगेस्टर तक की कार्रवाई हो चुकी है।

17ए- मोनू कुमार निषाद
जंगल केवटालिया थाना खोराबार निवासी मोनू कुमार निषाद पर रामगढ़ताल, बेलीपार और खोराबार थाने में 11 मुकदमे दर्ज हैं। ज्यादातर चोरी और आर्म्स एक्ट में केस दर्ज है वहीं खोराबार और बेलीपार में भी उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

14ए- वीरबहादुर निषाद
जंगल केवटालिया थाना खोराबार के निवासी वीरबहादुर निषाद पर रामगढ़ताल, बेलीपार और खोराबार थाने में 11 मुकदमे दर्ज हैं। चोरी, हत्या के प्रयास और गैंगेस्टर एक्ट से जुड़े यह सभी मुकदमे हैं। बेलीपार में दो बार तो वहीं खोराबार में एक बार उसके ऊपर गैंगेस्टर की कार्रवाई हुई है।

हिस्ट्रीशीटर 10ए- कपिलमुनि यादव
कजाकपुर थाना रामगढताल निवासी कपिलमुनि पर खोराबार और रामगढ़ताल थाने में आठ केस संगीन धाराओं में केस दर्ज हैं। कपिलमुनि यादव पर कजाकपुर के संजय यादव की हत्या का आरोप है। संजय के भाई दीपक के मुताबिक कपिलमुनि ने उसके भाई की हत्या कर शव को खेत में दबवा दिया था और गेहूं की बुआई करा दी। बाद में संजय की घड़ी बरामद हुई और हत्या में कपिलमुनि यादव को नामजद किया गया।मुकदमे की पैरवी कर रहे दीपक यादव का आरोप है कि कपिलमुनि उसे जान से मारने की धमकी दे चुका है। कपिलमुनि के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई को लेकर सहायक अभियोजन अधिकारी व ज्येष्ठ अभियोजन अधिकारी भी घिर चुके हैं। गैंगस्टर की कार्रवाई अभी लम्बित है, इस बीच हिस्ट्रीशीट खुल गई।

Related posts

Leave a Comment