कोंडागांव में 9 स्टूडेंट्स नाला में डूबे, 2 की लाश मिली

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में 9 स्कूली छात्र घूमने बाफना गांव से लगे नाला की तरफ गए थे। सभी पानी के अंदर मस्ती कर रहे थे। गहराई का अंदाजा नहीं होने से 4 बच्चे पानी में डूब गए। 5 छात्रों ने जैसे-तैसे अपनी जान बच गई। आसपास मौजूद लोगों की मदद से 2 छात्रों का शव नाले से बाहर निकाल लिया गया है, जबकि 2 छात्रों की तलाश जारी है। बताया जा रहा है कि यह सभी बच्चे स्कूल में एग्जाम देने के बाद बांध से लगे नाले की तरफ घूमने के लिए निकले थे। गोताखोरों की टीम छात्रों की तलाश कर रही है। पुलिस व प्रशासनिक अफसर मौके पर मौजूद हैं। मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र का है।

मिली जानकारी के जानकारी के मुताबिक कोंडागांव जिले के ग्राम पंचायत बाफना के पास एक छोटा सा डैम है। डेम से लगा हुआ डोंगापखना नाला है, जहां यह हादसा हुआ है। शुक्रवार को कोंडागांव के स्वामी आत्मानंद स्कूल के 9 स्टूडेंट्स रोशन सोनी, शेख अजहान खान, आशीष गुप्ता, सादाब अहमद, चंद्रकांत साक्षी, मोहित कश्यप, लाकेंद्र मरकाम, तुषार नेताम, भवदीप तिवारी नाले की तरफ घूमने गए थे। सभी कक्षा 12वीं के छात्र हैं। स्टूडेंट्स पानी के आसपास मस्ती कर रहे थे। गहराई का अंदाजा नहीं होने के कारण 4 छात्र पानी में डूब गए। 5 छात्र को आसपास मौजूद लोगों की मदद से बाहर निकाल लिया गया। 

गोताखोरों की टीम चला रहे सर्चिंग अभियान 
घटना की सूचना पुलिस को दी गई। कुछ देर में कोतवाली थाना, स्कूल प्रबंधन और जिला प्रशासन के अफसर भी घटना स्थल पर पहुंच गए। इस दौरान दो बच्चों मोहित कश्यप और चंद्रकांत का शव निकाल लिया गया था। दोनों शवों को एम्बुलेंस से मरच्युरी भिजवाया गया। लाकेंद्र मरकाम (17 वर्ष) और तुषार नेताम (17 वर्ष) की तलाश गोताखोर कर रहे हैं। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है। इधर स्कूली बच्चों की डूबने से मौत के बाद परिवार में मातम पसरा हुआ है। बता दें कि दक्षिण बस्तर में कुछ दिनों पहली भारी बारिश हुई थी, जिससे नदी-नालों में पानी का बहाव काफी तेज है।

जांजगीर-चांपा जिले में भी एक बच्चा नाले में बहा
इधर जांजगीर चांपा जिले के कटौद गांव के कांजी नाला में एक बच्चा पानी के तेज बहाव में बह गया। परिजन और आसपास के लोग बच्चे को तलाश करते रहे, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद नवागढ़ थाना की पुलिस को सूचना दी गई। एसडीआरएफ और स्थानीय गोताखोरों की टीम बच्चे की तलाश कर रही है। बच्चा कटौद गांव का निवासी है। कांजी नाला में रोज की तरह यश मनु बंजारे (11 वर्ष) अपने साथियों के साथ नहाने गया था। बारिश की वजह से पानी का बहाव तेज था, जिसमें वह बह गया। रात होने की वजह से सर्च ऑपरेशन रोक दिया गया है। अब सुबह फिर बच्चे की तलाश की जाएगी।

Related posts

Leave a Comment