बी.पी.पुजारी इंग्लिश स्कूल में दिखा प्रगति और परंपरा का संगम

रायपुर। आज हरेली का त्यौहार है। हरेली वह त्यौहार है जिससे छत्तीसगढ़ में त्यौहारों का सिलसिला प्रारंभ होता है, इसीलिये इसे छत्तीसगढ़ का प्रथम त्यौहार कहा जाता है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की महत्वाकांक्षी योजना स्वामी आत्मानंद शिक्षा योजना के तहत जहाँ बच्चे अंग्रेज़ी माध्यम में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं, वहीं अपनी परंपराओं का हर्षोल्लास के साथ निर्वहन भी कर रहे हैं
यह माननीय भूपेश बघेल जी का प्रयास है कि आधुनिक अंग्रेज़ी स्कूल में छत्तीसगढ़ी त्यौहार मनाया जा रहा है

पं. रविशंकर शुक्ल वार्ड 35 में स्थित बी.पी.पुजारी अंग्रेज़ी स्कूल में बच्चों के साथ हरेली का त्यौहार मनाया। हरेली के उपलक्ष्य में सभी बच्चे छत्तीसगढ़ के पारंपरिक वेशभूषा में थे
बच्चों के लिये गेड़ी,फुगड़ी,खोखों एवं सांस्कृतिक नृत्य का आयोजन किया गया, जिसमें बच्चों ने उत्साह के साथ भाग लिया।

पार्षद आकाश तिवारी ने कहा बच्चों के शैक्षणिक विकास के साथ साथ उनके सांस्कृतिक विकास का साक्षी बनकर मैं स्वयं को धन्य महसूस कर रहा हूँ।

Related posts

Leave a Comment