मरौद में बनेगी पानी टंकी, पेयजल की किल्लत होगी दूर
संसदीय सचिव ने किया पानी टंकी के साथ ही विकास कार्यों का भूमिपूजन


महासमुंद। ग्राम पंचायत मरौद में पेयजल किल्लत दूर करने पानी टंकी निर्माण के साथ पाइपलाइन विस्तारीकरण का कार्य कराया जाएगा। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने पानी टंकी के साथ ही विकास कार्यों का भूमिपूजन किया।
आज रविवार को जल जीवन मिशन के तहत पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण कार्य, पीडीएस भवन निर्माण, सीसी रोड निर्माण व शेड निर्माण का भूमिपूजन कार्यक्रम आयोजित था। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर थे। अध्यक्षता कृषि उपज मंडी के अध्यक्ष हीरा बंजारे ने की। विशेष अतिथि के रूप में जिला पंचायत सदस्य अमर अरूण चंद्राकर, जनपद सदस्य अजय मंगल ध्रुव, कुणाल चंद्राकर, सरपंच संघ के अध्यक्ष वीरेंद्र चंद्राकर, थनवार यादव, सरपंच भेखूराम यादव, दिलीप जैन, केशव चौधरी, राधेश्याम ध्रुव, नारूद यादव, जीवन ध्रुव मौजूद थे। अपने संबोधन में संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण की सौगात मिलने पर ग्रामवासियों को बधाई देते हुए कहा कि अब ग्रामीणों को पेयजल के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। अक्सर गांव के दौरे में पहुंचने के दौरान महिलाएं पेयजल व्यवस्था की ओर ध्यानाकर्षित कराती थी। जिसे गंभीरता में लिया गया था। जल जीवन मिशन के तहत मरौदा ग्राम को जोड़ा गया। बाद इसके यहां पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण की सौगात मिल सकी। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र के अधिकांश ग्राम पंचायतों में पानी टंकी निर्माण व पाइपलाइन विस्तारीकरण का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि वे अपने कार्यकाल में जनता की अपेक्षा पर खरा उतरने का हरसंभव प्रयास किया है। सभी क्षेत्रों में प्राथमिकता के साथ विकास कराने की सोच लेकर सिंचाई, शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में करोड़ों रूपए के विकास की सौगात दिलाई गई है। इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताते हुए कहा कि आगे भी विधानसभा क्षेत्र में चहुंमुखी विकास कराने कोई कसर नहीं छोड़ा जाएगा। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से चैतराम ध्रुव, प्रीति पटेल, डेरहीन पटेल, रामगोपाल पटेल, दुकाला बाई, हेमलाल ध्रुव, तिलक पटेल, अमरू ध्रुव, ईश्वर ध्रुव, नंदू पटेल, ऐनू साहू, रामसिंग ध्रुव, पंचराम ध्रुव, हजारी ध्रुव, देवचरण निर्मलकर, घनश्याम ध्रुव, भोजराम ध्रुव, पवन साहू, ईश्वरी पटेल, टुलसिंह ध्रुव, बेदराम ध्रुव, बेदराम पटेल, नीलकंठ पटेल आदि ग्रामीणजन मौजूद थे।

Related posts

Leave a Comment