रेनकोट मिलने से श्रमवीरों के खिल उठे चेहरे, बरसाती पानी से मिलेगी राहत
संसदीय सचिव ने की जनसेवा की एक और मिसाल कायम


क्षेत्र में किसानी करने वाले श्रमवीरों को किया जाएगा रेनकोट वितरित



महासमुंद। बारिश में भींगते खेती-किसानी का कार्य कर रही महिलाओं के चेहरे उस वक्त खिल गए जब अचानक पहुंचे संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने उन्हें रेनकोट वितरित किया। इसके माध्यम से श्रमवीरों की पीड़ा को समझते हुए संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने जनसेवा की एक और मिसाल कायम की। जनसेवा की यह कोई पहला उदाहरण नहीं है। बल्कि इसके पूर्व भी कोरोना महामारी के दौरान जरूरतमंदों को राहत पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।
आज शनिवार की सुबह संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर केशवा क्षेत्र में दौरे पर निकले थे। इसी दौरान मुख्य मार्ग पर कुछ महिलाएं बारिश के बीच खेती किसानी कार्य में व्यस्त थी। जिसे देखकर संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने अपनी गाड़ी रूकवाई। बाद इसके उनके बीच पहुंचकर सभी महिलाओं व काम कर रहे किसानों को रेनकोट वितरित किया। रेनकोट मिलने से श्रमवीरों के चेहरे खिल गए। रेनकोट मिलने की खुशी पर महिलाओं ने कहा कि बारिश के दिनों में बिना रेनकोट के उन्हें किसानी काम करना पड़ रहा था। अब रेनकोट मिलने से बरसाती पानी से उन्हें भींगना नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि वे पहले जनप्रतिनिधि हैं जो उनकी पीड़ा को समझ सके। गौरतलब है कि संसदीय सचिव श्री चंद्राकर अपनी जनसेवा की भावना को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। संसदीय सचिव श्री चंद्राकर द्वारा अपने निवास पर स्थित जनसेवा केंद्र में श्रमिकों को योजनाओं का लाभ दिलाने के उद्देश्य से संगठित कर्मकार व असंगठित कर्मकारों का निःशुल्क पंजीयन करने की पहल की जा रही है। यहां श्रम विभाग से संबंधित कार्यों व योजनाओं का आवेदन भी मुफ्त में किया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों की स्थिति में सुधार लाने के लिए चलाई जा रही स्वास्थ्य, शिक्षा सहित अन्य सुविधाओं का लाभ पहुंचाकर समाज में उन्हें आगे लाने की सोच है। इसी तरह संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने कोरोना महामारी के दौरान न केवल जरूरतमंदों तक राहत पहुंचाने का हरसंभव प्रयास किया बल्कि कोरोना से पीड़ितों को इलाज की सुविधा मुहैया करने अपनी जान जोखिम में डालकर मानवता की मिसाल कायम की। वहीं हाल ही में हुई भारी बारिश के चहते शहर व आसपास जलभराव की स्थिति से निपटने संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने बरसते पानी में मौके पर पहुंचकर पानी निकासी की व्यवस्था कराकर राहत पहुंचाई थी। इधर संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने कहा कि जनसेवा की भावना के उद्देश्य से पूरे विधानसभा क्षेत्र में श्रमवीरों को रेनकोट वितरित किया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment