कर्ज के कारण मानसिक तनाव से गुजर रहा था कारोबारी, परिवार को आग लगाने के बाद कर ली आत्महत्या 

नागपुर. नागपुर में 58 वर्षीय एक कारोबारी ने अपनी कार में कथित तौर पर खुद को और अपने परिवार को आग लगाने के बाद आत्महत्या कर ली। पुलिस ने कहा कि कारोबारी रामराज भट की मौत हो गई, जबकि उसकी पत्नी संगीता (57) और बेटा नंदन (25) हादसे में बच गए। पुलिस से जानकारी मिली है कि कार से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें पता लगा है कि रामराज कर्ज के कारण मानसिक तनाव से गुजर रहा था।

पुलिस के मुताबिक, घटना मंगलवार दोपहर करीब एक बजे हुई जब रामराज भट ने कथित तौर पर अपने परिवार को लंच के लिए बाहर ले जाने की पेशकश की। पुलिस अधिकारी ने कहा, “वे दोपहर करीब 12.30 बजे घर से निकले। हमें पता चला कि भट ने अचानक सड़क पर वाहन रोक दिया, सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम का उपयोग करके कार के दरवाजे बंद कर दिए। इसके बाद कथित तौर पर खुद और परिवार के अन्य लोगों पर पेट्रोल डाला और सभी को आग लगा दी।”

वेल्डिंग कारोबारी था रामराव
पुलिस जानकारी के अनुसार, रामराज भट नागपुर के जैताला इलाके में रहता था और वेल्डिंग का कारोबार करता था। पुलिस ने कहा कि उन्हें कार में एक सुसाइड नोट मिला, जिससे पता चला कि भट आर्थिक तंगी का सामना कर रहा था।

मां-बेटे ने किसी तरह बचाई जान
जानकारी के अनुसार, मां और बेटे ने किसी तरह कार के दरवाजे खोलकर बाहर आकर स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाया। इस दौरान कई राहगीर मौके पर जमा हो गए। उन्होंने पुलिस की मदद से संगीता और नंदन को अस्पताल पहुंचाया। कार के अंदर बैठे रहने के कारण भट की जलकर मौत हो गई।

पुलिस अधिकारी ने कहा, “हम मामले की जांच कर रहे हैं।” उन्होंने बताया कि संगीता और नंदन 50 प्रतिशत से अधिक जले हुए हैं, लेकिन उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

Related posts

Leave a Comment