शिक्षा अधिकारी के ऊपर बड़ी कार्यवाही स्वागत योग्य , मिलीभगत पर भी जांच हो

 

 

बस्तर अधिकार संयुक्त मुक्ति मोर्च ने कहा संवेदनशील सरकार के विकास के रास्ते आड़े आ रहे भ्रष्ट अधिकारी सबक लें

जगदलपुर ।अनुकंपा नियुक्ति को में गड़बड़ी और सारे नियम कायदों की धज्जियां उड़ा कर 70 भृत्यों की नियुक्ति मामले में आखिरकार शिक्षा अधिकारी राजेंद्र कुमार झा सस्पेंड कर दिए गए हैं उसके खिलाफ तमाम संगठनों के साथ मुखरता से मामले को उठाने वाले बस्तर अधिकार संयुक्त मुक्ति मोर्चा के युवा नेता बेनी फर्नाडिस ने कहा है कि यह स्वागत योग्य फैसला है बस्तर में भ्रष्ट अधिकारियों को इससे सबक लेना चाहिए क्योंकि इस तरह के भ्रष्टाचार मामले में संयुक्त समिति निरंतर आवाज उठाते रहेगा यही नहीं बल्कि हम उनकी कुंडली तैयार कर प्रशासन और शासन का ध्यान उचित कार्यवाही हेतु इस ओर आकृष्ट करने अपनी कोशिश करेंगे ताकि बस्तर में सर्वांगीण विकास के रास्ता प्रशस्त हो उन्होंने कहा कि जगदलपुर शिक्षा विभाग में फर्जी भर्ती पर शिक्षा अधिकारी के ऊपर यह बड़ी कार्रवाई है परंतु क्या इस मामले में उक्त अधिकारी द्वारा अकेले ही सब कर लिया गया यह एक सवाल है इस मामले में बाबू की मिलीभगत पर भी जांच हो उन्होंने कहा कि अन्य विभागों में भी ऐसे भ्रष्ट अधिकारी हैं जिन्हें चिन्हित किया जाना चाहिए ताकि ताकि शासन के योजना और विकास का प्रारूप स्पष्ट रूप से जनता के सामने आ सके उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए सरकार संवेदनशील और गंभीर है परंतु कुछ लोग हैं जो भ्रष्टाचार में लिप्त हैं जिनके कारण प्रदेश में विकास के रास्ते मुश्किलें आ रही है।

Related posts

Leave a Comment