रायपुर : सूट बूट पहन कर शादी समारोह में चोरी करने का एक आरोपी गिरफ्तार – तीन फरार

 

रायपुर। रायपुर पुलिस ने विवाह समारोह में चोरी करने वाले अंतर्राज्यीय राजगढ़ (म.प्र.) पचोर के सांसी कड़िया गिरोह के सदस्य रितिक छायल को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि गिरोह के सदस्य पूरे भारत देश में घुम – घुम कर विवाह समारोह में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते है।

वहीं रायपुर के विसलींग वुड सेरीखेडी में शादी समारोह में हुए चोरी मामले का खुलासा किया है. मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि CCTV कैमरों के फुटेज के अवलोकन पश्चात् आरोपी के संबंध में महत्वपूर्ण साक्ष्य प्राप्त हुए। चूंकि रायपुर पुलिस द्वारा पूर्व में भी विवाह समारोह में इसी तरह के तरीका वारदात के आधार पर चोरी करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई थी। अतः टीम द्वारा इस तरह के तरीका वारदात के आधार पर अपराध घटित करने वाले राजगढ़ (म.प्र.) पचोर के सांसी कड़िया गिरोह पर फोकस करते हुये कार्य प्रारंभ किया गया एवं एक आरोपी को चिन्हांकित करने में सफलता मिली।

जिस पर टीम मध्यप्रदेश के जिला राजगढ़ पचोर हेतु रवाना की गई। टीम द्वारा जिला राजगढ़ पचोर पहुंचकर आरोपियों के संबंध में जानकारी एकत्रित करना प्रारंभ किया गया। टीम द्वारा आरोपी के संबंध में जानकारी प्राप्त कर स्थानीय पुलिस की मदद लेकर उनकी गिरफ्तारी का प्रयास प्रारंभ किया गया और आरोपी के निवास क्षेत्र में रेड कार्यवाही करते आरोपी रितिक छायल को गिरफ्तार करने में सफलता मिली।

आरोपी द्वारा चोरी की उक्त घटना को अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर कारित करना स्वीकार किया। आरोपी रितिक छायल ने पूछताछ में बताया कि वह घटना के कुछ दिन पूर्व अपने साथी ओम सिसोदिया, बाबू सिसोदिया एवं एक अन्य वाहन चालक के साथ चारपहिया वाहन में अपने गृह ग्राम कड़िया से रायपुर आये थे तथा शादी समारोह में शामिल हुये तथा मौका देखकर सोने चांदी के जेवरात वाले बैग को चोरी कर फरार हो गये।

आरोपी रितिक छायल की निशानदेही पर उसके कब्जे से चोरी की सोने के जेवरात कीमती लगभग 3,00,000 रूपये जप्त किया जाकर आरोपी को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्यवाही किया गया। घटना में शामिल गिरोह के 03 सदस्य फरार है जिनके संबंध में गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ की जाकर फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने के हर संभव प्रयास किये जा रहे है।

इस गिरोह के सदस्य मूलतः जिला राजगढ़ (म.प्र.) के पचोर के निवासी होते है तथा सांसी जाति के होते है। गिरोह के सदस्य विवाह समारोह में अच्छे कपड़े पहनकर शामिल होते है तथा घरवालों सहित आसपास के लोगों पर लगातार नजर रखकर मौका देखकर सोने, चांदी के जेवरात, नगदी रकम एवं गिफ्ट आयटमों को चोरी कर फरार हो जाते है। यह गिरोह देश भर में घुम – घुम कर विवाह समारोह में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते है। आरोपियों को गिरफ्तार करने एवं मशरूका बरामद करने में उप निरीक्षक त्रिलोक प्रधान थाना आरंग, सायबर सेल से सउनि. शंकर लाल ध्रुव, प्र.आर. संतोष सिंह, आर. आशीष राजपूत एवं तुकेश निषाद का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Related posts

Leave a Comment