कोरोना वैक्सीन लगवाने का मौका दो बार मिलेगा , चूके तो पछताना पड़ेगा

कोरोना टीकाकरण अभियान में एक बार मौका चूकने वाले को पछताना पड़ेगा। सरकार द्वारा पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी होने के बाद मानक के अनुसार प्रत्येक लाभार्थी को मैसेज द्वारा टीकाकरण के बारे में सूचना दी जाएगी। जो भी लाभार्थी तय समय में टीका लगवाने के लिए उपस्थित नहीं हो पाएगा उसे एक और मौका दिया जाएगा। लेकिन दूसरा मौका भी गंवा देने के बाद सरकार की सूची से उसका नाम अपने आप हट जाएगा। ऐसी स्थिति में फिर उसे कब टीका लग पाएगा यह सुनिश्चित करना मुश्किल होगा।

 

निदेशक स्वास्थ्य डॉ. अमनदीप कौर कंग का कहना है कि टीकाकरण की प्रक्रिया में लापरवाही बरतने वाले को काफी मुश्किल होगी। इसलिए इसे बेहद गंभीरता से लेना होगा ताकि शत प्रतिशत आबादी में टीकाकरण सुनिश्चित किया जा सके। स्वास्थ्य विभाग ने अपने 16 हजार फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कर्मियों व पीजीआई ने 12000 स्वास्थ्य कर्मियों का विवरण टीकाकरण के पोर्टल पर अपलोड किया है।

 

 

पंजीकरण के लिए लाभार्थियों के पास आएगा मैसेज
डॉ. कंग ने बताया कि टीकाकरण के लिए पंजीकरण के आधार पर सभी लाभार्थियों के पास मैसेज जाएगा। इसमें लाभार्थी के नाम, पता के साथ ही टीकाकरण की तिथि और स्थान भी लिखा होगा। दी गई तिथि और संबंधित स्थान पर उपस्थित होकर अपना टीकाकरण करवाना होगा। जो भी व्यक्ति पहले तिथि पर नहीं पहुंचेगा उसे कुछ दिन बाद दोबारा एक और मैसेज भेजा जाएगा। अगर उस व्यक्ति ने दोबारा भी बताए गए तिथि पर आकर टीकाकरण नहीं कराया तो फिर पोर्टल से उसका नाम हट जाएगा। इसके बाद उसे टीकाकरण के लिए अपना पंजीकरण कराना पड़ेगा।

 

दो भागों में बटी जनता… कुछ को है इंतजार, तो कुछ को नहीं पड़ता फर्क
कोरोना के टीकाकरण को लेकर भी जनता दो धड़ों में बटी हुई है। इसमें से एक वर्ग को बेसब्री से टीकाकरण का इंतजार है। वही दूसरा वर्ग इसे लेकर बेफिक्र है। इन दोनों वर्गों को जागरूक करने के लिए मीडिया का सहारा लिया जाएगा। डॉ. कंग ने बताया कि जिन्हें जल्दी टीका लगवाने का इंतजार है उन्हें यह बात समझाई जाएगी कि क्रमवार ही इस प्रक्रिया के अंतर्गत उनका टीकाकरण किया जाएगा। वहीं दूसरे बेफिक्र वर्ग को भी इस टीकाकरण के महत्व के बारे में जानकारी देकर टीका लगवाने के लिए तैयार किया जाएगा।

 

Related posts

Leave a Comment