WHO ने लोगों को गले मिलने से बचने का परामर्श जारी किया

 

 

 

 

 

 विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अपने संदेश में लोगों से छुट्टियों के दौरान विशेष सावधानी बरतने और ‘गले मिलने’ से परहेज करने के लिए कहा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के आपात मामलों के प्रमुख डॉ. माइकल रेयान ने सोमवार को कहा, कि खासकर अमेरिका में कोविड-19 के मामलों और संक्रमण से होने वाली मौत के आंकड़े चौंकाने वाले हैं. इसका यही मतलब है कि लोगों को इस साल अपने प्रियजनों के ज्यादा करीब आने से बचना चाहिए. डॉ. रेयान ने कहा, ‘‘अमेरिका में महामारी का प्रकोप बढ़ रहा है. यह व्यापक रूप में फैल गया है.” उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका में बेहतरीन स्वास्थ्य प्रणाली और आधुनिक तकनीक हैं, वहां एक मिनट में संक्रमण से एक से दो लोगों की मौत होना चौंकाने वाली बात है.’

 

रेयान ने कहा, कि दुनिया में कोविड-19 के कुल मामलों के एक तिहाई मामले अमेरिका में हैं. जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुसार देश में संक्रमण से अब तक 2,80,000 लोगों की मौत हो चुकी है. संवाददाता सम्मेलन के दौरान रेयान से यह पूछा गया था कि क्या ‘गले मिलने’ को ‘करीबी संपर्क’ माना जा सकता है. संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने कोरोना वायरस संक्रमण के लिहाज से उच्च जोखिम वाले देशों में लोगों के लिए ‘करीबी संपर्क’ से बचने का परामर्श जारी किया है. कोविड-19 पर डब्ल्यूएचओ की तकनीकी प्रमुख मारिया वान केरखोवे ने कहा कि संक्रमण के अधिकतर मामले साथ भोजन करने और साथ रहने के कारण हुए हैं.

 

हालांकि, यह बता पाना मुश्किल है कि यह वायरस वास्तव में किस तरह से फैला, रेयान ने कहा, ‘‘महामारी को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने लोगों से एक दूसरे से दूर रहने और गले नहीं मिलने के लिए कहा है.” ब्रिटेन के मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस व्हिटी ने भी नवंबर में ब्रिटिश नागरिकों से कहा था कि अगर वे अपने बुजुर्ग प्रियजनों को जीवित और स्वस्थ देखना चाहते हैं और आगे उन्हें गले लगाना चाहते हैं तो इन छुट्टियों में उनसे गले मिलने और चूमने से परहेज करें.

Related posts

Leave a Comment