बलरामपुर: नाबालिग लड़की से 15 दिनों में 8 लोगों ने किया गैंगरेप

छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में पुलिस ने 15 वर्षीय किशोरी से कथित सामूहिक बलात्कार के मामले में चार वयस्क आरोपियों को गिरफ्तार किया है तथा चार नाबालिग आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि जिले के राजपुर थाना क्षेत्र निवासी 15 वर्षीय एक लड़की ने आठ लोगों पर सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाया है। पुलिस ने इस मामले में सिद्धांत सागर (22), आलम साय (22), विनय तिर्की (22) तथा सुरेंद्र मिंज को गिरफ्तार कर लिया है तथा चार नाबालिगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

अधिकारियों ने बताया कि लड़की ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने पिछले 15 दिनों के दौरान पड़ोसी सरगुजा जिले में गांधी नगर क्षेत्र में उसके साथ बलात्कार किया। बलरामपुर जिले के पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू ने बताया कि 30 नवंबर को लड़की के परिजनों ने पुलिस में शिकायत की थी कि नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली उनकी बेटी 20 नवंबर से लापता है। शिकायत के बाद पुलिस ने किशोरी की खोज शुरू की थी।

साहू ने बताया कि लड़की पांच दिसंबर को अचानक घर पहुंची। उसके परिजन उसे दूसरे दिन थाने लेकर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पुलिस को दिए बयान में लड़की ने कहा कि वह 20 नवंबर को अंबिकापुर चली गई थी। वहां उसकी मुलाकात जान-पहचान के युवक सागर से हुई जो उसे गांधी नगर क्षेत्र में अपने मित्र के यहां किराए के मकान में ले गया। वहां सागर ने उसके साथ बलात्कार किया।

Related posts

Leave a Comment