जल जीवन मिशन: तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

 

 

विलेज एक्शन प्लान एवं डिस्ट्रीक्ट एक्शन प्लान 17 दिसम्बर तक पूर्ण करने के निर्देश

 

रायपुर।जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत आज राजधानी स्थित नीर भवन में 07 दिसम्बर 2020 से 09 दिसम्बर 2020 तक तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। आज की कार्यशाला में मुख्यतः कार्यपालन अभियंताओं एवं सदस्य सचिव, जिला जल एवं स्वच्छता समिति द्वारा अपने जिले के ग्राम पंचायतों में ग्राम सभा से अनुमोदित निर्मित विलेज एक्शन प्लान का प्रस्तुतिकरण किया गया।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कार्यशाला के प्रथम दिवस पर प्रस्तुतिकरण में जिलों में अद्यतन कार्याें से अवगत कराया गया कि जिला दंतेवाड़ा एवं सुकमा में समस्त ग्रामों में विलेज एक्शन प्लान का कार्य पूर्ण हो गया है। शेष जिले बीजापुर के 568 में से 480 पूर्ण, जिला बस्तर 616 में से 219, जिला कोण्डागांव 571 में 368, जिला नारायणपुर 370 में 198 एवं जिला कांकेर में 1069 में 766 ग्राम पूर्ण हो चुके हैं। इसी प्रकार घरेलू कनेक्शन प्रदाय का कार्य रेट्रोफिटिंग नलजल योजनाओं के माध्यम से जिला दंतेवाड़ा में 19709, जिला बस्तर में 45981, जिला कोण्डागांव में 43907, जिला कांकेर में 46879, जिला नारायणपुर में 4953 द्वारा पूर्ण किया जाएगा। इसी कड़ी में सिंगल विलेज योजना से दंतेवाड़ा जिले के 150 ग्रामों में 24528 कनेक्शन, नारायणपुर जिले में 329 में से 14525 कनेक्शन, जिला बस्तर में 220 ग्रामों में 95336, जिला कोण्डागांव में 438 ग्रामों में 55159 एवं जिला कांकेर में 904 ग्रामों में 57156 कनेक्शन दिया जाना प्रस्तावित है। शेष घरेलू कनेक्शन समूह नलजल योजनाओं के माध्यम से दिया जाना है।

संचालक, जल जीवन मिशन द्वारा प्रस्तुतिकरण पर विस्तृत चर्चा की गई। श्री प्रकाश ने विलेज एक्शन प्लान एवं डिस्ट्रीक्ट एक्शन प्लान 17 दिसम्बर तक पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रस्तावित कार्य योजना में स्त्रोत में जल आवक क्षमता को सुनिश्चित करें व यदि आवक क्षमता की जांच की आवश्यकता हो तो विद्युत यांत्रिकी संकाय से सम्पर्क कर जल आवक क्षमता का परीक्षण करा लेवें। विलेज एक्शन प्लान ग्राउंड रियलिटी के आधार पर ही तैयार किया जाए। बैठक की अध्यक्षता संचालक श्री एस.प्रकाश, जल जीवन मिशन द्वारा की गई। इस अवसर पर प्रमुख अभियंता, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, मुख्य अभियंता (विद्युत यांत्रिकी) एवं अधीक्षण अभियंता एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थेे।

Related posts

Leave a Comment