रायपुर पश्चिम विधानसभा के लोगों को भी मिल रहा गोधन न्याय योजना का लाभ: विकास उपाध्याय

 

 

रायपुर। विधायक एवं संसदीय सचिव विकास उपाध्याय आज दूसरे दिन ‘‘विधायक तुंहर दुआर‘‘ के तहत हीरापुर और टाटीबंध के पूरे क्षेत्र में भ्रमण कर लंबित प्रकरणों का निपटारा किया। उन्होंने कहा पश्चिम विधानसभा के लोगों को भी गोधन न्याय योजना का लाभ मिल रहा है एवं भूपेश सरकार के द्वारा संचालित योजनाएँ आम जन के हित में फलीभूत हो रही हैं। क्षेत्र की जनता पिछले 02 वर्षों में विधायक द्वारा किये गए कार्यों से संतुष्ट है।

विधायक तुँहर दुआर‘‘ कार्यक्रम की शुरूआत के साथ ही इस कार्यक्रम को लेकर पूरे पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में जबरदस्त उत्साह देखी जा रही है। आज सुबह विधायक विकास उपाध्याय हीरापुर क्षेत्र के एक-एक गलियों का निरीक्षण कर आम जनता से लगातार मुलाकात कर क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं एवं लंबित प्रकरणों को सुलझाने को लेकर चर्चा की। इस बीच हीरापुर क्षेत्र में पानी के तीन ऐसे बड़े टैंक की जानकारी संज्ञान में आई जो वर्षों से खण्डहर हैं और पानी को लेकर इसकी जरूरत भी नहीं है। जिसे तोड़कर उन स्थानों में मिनी गार्डन बनाये जाने का विधायक ने अधिकारियों को निर्देश दिया। वहीं वर्षों पूर्व हाउसिंग बोर्ड द्वारा निर्मित मकानों से लगे नालियों में आ रही पानी सिवरेज की समस्या को लेकर विधायक विकास उपाध्याय ने नगर निगम के अधिकारियों को समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

 

विधायक विकास उपाध्याय ने बताया इस क्षेत्र में गौठानों से आम जनता को मिल रही आय को लेकर भी लोगों के बीच जबरदस्त उत्साह देखी गई। अटारी एवं जरवाय में 02 गौठाने बनाई गई हैं जिसका लाभ यहाँ के लोगों को मिल रहा है। गोबर बिक्री के कार्य में लगे लोगों को जिन्हें एक ट्राॅली का 750 रूपये तक मिलता था। जिन्हें अब सरकार द्वारा गोबर का मूल्य निर्धारित कर देने के पश्चात एक ट्राॅली का 6500 रूपये तक मुनाफा हो रहा है। इससे पूरे काॅलोनी क्षेत्र में गोबर की साफ-सफाई होने से स्वच्छता भी बनी हुई है। उन्होंने बताया शासन द्वारा SLRM कंपनी को गोबर खरीदी करने अधिकृत किया गया है जहाँ यहाँ के बेरोजगारों ने योजना की शुरूआत के बाद 06 लाख 15 हजार क्विंटल गोबर दे चुके हैं। जिसका भुगतान अब तक कंपनी ने 12 लाख 30 हजार रुपये कर चुकी है। इससे वर्मी खाद का निर्माण भी कंपनी द्वारा प्रति किलो 08 रूपये के दर पर बनाकर बेची जा रही है।

Related posts

Leave a Comment