चेम्बर भवन को राजनीतिक अखाड़ा ना बनाएं सुंदरानी, व्यापारी एकता पैनल अपना दीपावली मिलन कहीं और कराएं – नरेन्द्र दुग्गड़

चेम्बर का दीपावली मिलन या एकता पैनल का राजनीतिकरण
छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज एक संवैधानिक संस्था है, जिसका अपना संविधान और गरिमा हैं, लेकिन व्यापारी एकता पैनल के पदाधिकारियों ने इसे राजनीतिक अखाड़ा बना दिया है, जिससे ना तो व्यापारियों का भला हो रहा है और ना ही चेम्बर का। ये पदाधिकारी चेम्बर की छवि को धूमिल करने के प्रयास में लगे हुए हैं। इसका सबसे बड़ा उदाहरण यह है कि चेम्बर ऑफ कॉमर्स भवन में व्यापारी एकता पैनल के सौजन्य से 15 नवंबर को दीपावली मिलन समारोह का आयोजन किया जा रहा है। यह सही है कि चेम्बर में 60 साल से दीपावली मिलन समारोह होता आ रहा है, लेकिन इससे पहले कभी भी दीपावली मिलन समारोह के जरिए वोटबैंक की राजनीति नहीं खेली गई। फिर इस बार क्यों ? दीपावली मिलन को व्यापारी एकता पैनल की ओर से राजनीतिकरण का रूप दिया जा रहा है। हमारी आपत्ति दीपावली मिलन समारोह को लेकर नहीं है। और ना ही चेम्बर ऑफ कॉमर्स के नाम पर हैं। आपत्ति तो यह है कि यह दीपावली मिलन समारोह का आयोजन व्यापारी एकता पैनल की ओर से किया जा रहा है, जिसमें अध्यक्ष प्रत्याशी तय हो चुके हैं। यह कार्यक्रम चेम्बर भवन में क्यों। वह भी तब जब चेम्बर में चुनाव की सरगर्मी तेज हो चुकी है। चुनाव अधिकारी नियुक्त हो चुके हैं। इसका संज्ञान तो स्वयं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी शिवराज भंसाली को लेना चाहिए। एकता पैनल, चेम्बर भवन को छोड़कर प्रदेश में कहीं भी यह कार्यक्रम कराने के लिए स्वतंत्र हैं, लेकिन चुनाव आचार संहिता और चेम्बर की गरिमा को ध्यान में रखते हुए चेम्बर भवन को राजनीति का केंद्र बनाना उचित नहीं है। यह सब जानते हैं कि व्यापारी एकता पैनल के अध्यक्ष कौन है? राजनीति में उनका क्या दखल हैं। ऐसे में इस कार्यक्रम का पूरी तरह राजनीतिकरण हो चुका है ना कि यह चेम्बर का दीपावली मिलन कार्यक्रम रह गया है।
चेम्बर को राजनीति का अखाड़ा व्यापारी एकता पैनल के कुछ पदाधिकारियों ने बनाया है। भाजपा जिलाध्यक्ष व एकता पैनल के अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। संलग्न किया है श्रीचंद सुंदरानी द्वारा सोशल मिड़िया मेें जो पोस्ट किया गया। दीपावली मिलन का आंमत्रण पत्र।
धन्यवाद
विक्रम सिंह देव
जय व्यापार पैनल
88899-02381

Related posts

Leave a Comment