पूर्व विधायक बाफना ने दशहरा दीपावली जैसे बड़े त्योहारों को देखते हुए बाजार खोलने के समय में ढील देते हुए राहत देने की मांग की

 

 

 

जिला प्रशासन द्वारा दुकानें खोलने के निर्धारित संध्या 05:00 बजे तक की समयावधि को लेकर शहर के प्रमुख व्यापारी एवं सम्मानीय नागरिकों के आव्हान पर जगदलपुर भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विधायक श्री संतोष बाफना जी ने दशहरा, दीवाली एवं पुष्य नक्षत्र जैसे बड़े त्योहारों को देखते हुए जिला कलेक्टर को पत्र लिखा है। पत्र में पूर्व विधायक ने कहा है कि, जगदलपुर शहर का व्यापारी वर्ग समेत आमजन इस त्योहारी सीज़न में काफी असमंजस की स्थिति में हैं इसका कारण यह है कि जिला प्रशासन ने व्यावसायिक गतिविधियों को लेकर जो समय निर्धारित कर रखा है उससे बाजार में कम आवाजाही की स्थिति बनी हुई है।

 

आमजन के लिए नवरात्र के बाद दशहरा,दीवाली एवं पुष्य नक्षत्र जैसे त्योहार में छोटे-बड़े समान की खरीदारी करने से लेकर किसी भी कार्य को प्रारंभ करने के लिए बहुत ही शुभ माना जाता हैं। किन्तु 05 बजे तक की निश्चित समयावधि से लोगों में व्यावसायिक गतिविधियाॅ बंद हो जाने की हड़बड़ाहट के चलते बाजार में अंतिम समय सोशल डिस्टेंसिंग के नियम पूरी तरीके से ध्वस्त हो जाते हैं।

 

चूंकि केन्द्र सरकार के द्वारा भी अनलाॅक 5 में त्योहारों के मद्देनज़र बाज़ार खोलने के समय को लेकर कई प्रकार की ढ़ील दी गई है और तो और छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने भी रायपुर, भिलाई, दुर्ग से जैसे बड़े शहरों में भी बाज़ार 9 बजे तक खोलने के निर्देश दिये हैं।

 

पूर्व विधायक श्री बाफना ने जिला कलेक्टर से मांग की है कि जगदलपुर शहर में भी आगामी दशहरा-दीवाली जैसे बड़े त्योहारों को देखते हुए व्यावसायिक गतिविधियों के लिए समय में थोड़ी ढ़ील देकर व्यापारी वर्ग समेत आमजन को भी राहत दी जा सकती है। अतिरिक्त समय होने से न लोगों में हड़बड़ाहट के चलते भीड़ की स्थिति निर्मित होगी और न ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की अवहेलना होगी । जिला प्रशासन से इस संबंध में जो सुरक्षा संबंधी निर्देश जारी होंगे उनका सभी व्यापारियों समेत आमजन के द्वारा भी पालन किया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment