किसी को भी इस तरह की बातें नहीं करनी चाहिए’ — कांग्रेस नेताओं को कुछ इस तरह बोली राज्यपाल अनुसुइया उइके

राज्यपाल अनुसुइया उइके ने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत औऱ कांग्रेस के संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी के उन बयानों का जवाब दिया है जिसमें उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा था कि केंद्र सरकार राज्यपालों को संवैधानिक प्रमुख नहीं बल्कि फिरंगियों के जमाने के पोलिटिकल एजेंट बनाना चाहती है। बीजेपी राज भवन को ढाल बनाना बन्द करे। वहीं खाद्य मंत्री अमरजीत ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा था कि बीजेपी राजभवन के पीछे से राजनीति बन्द करे, राजभवन और सरकार को लड़ाने की कोशिश न करे, इस तरह के आरोप पर राज्यपाल अनुसुइया उइके ने कहा कि मैं एक संवैधानिक पद पर हूँ और सरकार की संरक्षक भी हूँ, किसी भी व्यक्ति को एक दायरे में रहकर बात रखनी चाहिए, मैंने हमेशा ही विकास के लिए सरकार का ध्यान आकर्षित किया और आपके प्रदेश में आप लोगों की सेवा के लिए आई हूं, किसी भी राजनीतिक दल या व्यक्ति को इस तरह की चर्चा नहीं करनी चाहिए। संवैधानिक पद पर होने के नाते मेरे लिए सभी समान है l

 

प्रदेश की राज्यपाल अनुसुइया उइके आज एक निजी धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने भिलाई के कुर्सीपार पहुंची, जहां उन्होंने सार्वजनिक दुर्गोत्सव के पंडाल में माँ दुर्गा की पूजा अर्चना की, राज्यपाल अनुसुइया उइके ने मां दुर्गा से प्रदेश की जनता के लिए खुशहाली की कामना की व जल्द ही प्रदेश को कोरोना जैसी माहमारी से मुक्त करने की प्रार्थना की। राज्यपाल को कलेक्टर सर्वेश्वर भूरे ने भिलाई निगम के महिला स्वसहायता के द्वारा गोबर से बनाई गई मां दुर्गा की प्रतिमा व कलाकृतियां भी भेंट की। इस मौके पर राज्यपाल ने कांग्रेस नेताओं के आरोपों का जवाब भी दिया।

Related posts

Leave a Comment