जांजगीर में रविवार देर रात एक महिला ने अपनी 6 माह की बच्ची को नदी में फेंका….फिर ​खुद को लगा ली आग

जांजगीर, छत्तीसगढ़ के जांजगीर में रविवार देर रात एक महिला ने 6 माह की बच्ची को नदी में फेंक दिया और फिर घर आकर खुद को भी आग लगा ली। महिला को 70 फीसदी से ज्यादा जली हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, बच्ची की तलाश की जा रही है। घटना चांपा थाना क्षेत्र के बिरगहनी चौक की है।

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में पति से विवाद के बाद महिला ने अपनी 6 माह की बच्ची को हसदेव नदी में फेंक दिया।इसके बाद खुद भी जान देने की कोशिश की। घर पहुंचने के बाद महिला ने खुद को केरोसीन डालकर आग लगा ली। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक, गेमन पुल के पहले बिरगहनी चौक के पास रोहिणी बाई का मायका है। पति से विवाद होने के चलते करीब 8 दिन पहले वह अपनी 6 माह की बेटी के साथ मायके में रहने के लिए आ गई थी। बताया जा रहा है कि रात करीब 11 बजे किरन ने अपनी बेटी को हसदेव नदी के घाट पर जाकर नदी में फेंक दिया।

बिलासपुर के सिम्स रिफर किया गया महिला को, हालत गंभीर

इसके बाद घर लौटकर खुद को भी आग लगा ली। महिला को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर देख बिलासपुर स्थित सिम्स रिफर कर दिया गया है। एसडीओपी दिनेश्वरी नंद ने बताया कि परिजनों का आरोप है कि पति से झगड़े के चलते रोहिणी ने यह कदम उठाया है। गोताखोरों की टीम बच्ची की तलाश नदी में कर रही है।

Related posts

Leave a Comment