बस्तर एयरपोर्ट में स्थानीय स्तर पर भर्ती,व्यापारीक गतिविधियों को केंद्रीय गाइड लाइन नियमों की छूट जैसी 4 मांगो को लेकर मुक्तिमोर्चा ने मुख्यमंत्री के नाम बस्तर प्रशासन को सौपा ज्ञापन

 

 

 

स्थानीय स्तर पर भर्ती ,रोजगार व्यपार में केंद्रीय गाइड लाइन की छूट, अतिथि शिक्षको के वेतन व अनुबंध,बस्तर के SPOसे आरक्षक बने जवानों को समान पद समान लाभ जैसे मुद्दों निराकरण हेतु सौपा ज्ञापन-मुक्तिमोर्चा

 

बस्तर के हित से जुड़ी इन मांगों पर ,सरकार व प्रशासन द्वारा निराकरण न होने पर होगा आंदोलन-मुक्तिमोर्चा

 

बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के सम्भागीय मुख्य संयोजक नवनीत चाँद के नेतृत्व में मुक्तिमोर्चा के संयोजक दल ने बस्तर हित में चार महत्वपूर्ण मांगो को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री के नाम बस्तर प्रशासन को ज्ञापन सौपा गया व निराकरण की मांग की है। मुक्तिमोर्चा मोर्चा के नवनीत चाँद ने जारी बयान में कहा कि ,आर सी एस केंद्र व राज्य की सयुक्त योजनाओं के द्वारा बस्तर एयरपोर्ट ने विगत 21 सितंबर से अनुबंधित कम्पनी द्वारा हवाई यात्रा प्रारम्भ की है। अनुबंध के अनुसार रिक्त सभी पदों पर स्थानीय स्तर पर भर्ती का प्रावधान है। पर कम्पनी द्वारा कस्टमर एजेंट के नाम की 6 पदों पर सम्पूर्ण भारत से भर्ती की प्रक्रिया प्रारम्भ की है। जो बस्तर के बेरोजगारो के अवसर पर अवैधानिक अतिक्रमण है। वही इस योजना हेतु एयरपोर्ट का निर्माण बस्तर के लोगो के अधिकार की राशि DMF से खर्च की गई हैं। इसी योजनाओं से बस्तर के शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करने वाले अतिथि शिक्षको का कोरोना कॉल में वेतन न देना न अनुबंध बढ़ाना बस्तर शिक्षा व्यवस्था के साथ अन्याय है। जबकि जगदलपुर महारानी असपताल की रिक्त भर्तियां जो विवादों में है। इन्ही योजनाओं से संचालित की जा रही है।*

**कोरोना संक्रमण को रोकने के नाम पर बार बार बस्तर के व्यपारिक गतिविधियों के समय के निर्धारण पर रोज नए आदेश निकाल सक्रमण रोक थाम प्रयोगशाला बनाना छोटे व्यपारियो व फुटकर व्यपारियो व ठेले वाले ,सब्जी विक्रेता व रोजमर्रा कमाने वालों व बैंकों के उधारकर्ताओं पर कहर बन कर बरस रहा है। नुकसान शहने की स्थिति अब यह वर्ग नहीं रख सकता। केंद्रीय व्यवपरिक गतिविधियों के संचालन हेतु जारी गाइड लाइन का पालन की मांग रखी गई है। ताकि सभी वर्ग सक्रमण के बचाव के साथ व्यापार कर सके ,वही 2005 में SPO से सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सहायक आरक्षक बने बस्तर के जवानों को आरक्षक पदों हेतु निर्धारित वेतन व लाभ समान स्तर पर दी जाए ,इन 4 सूत्रीय मांग को लेकर ज्ञापन सौप मांग पूरी न होने पर आंदोलन की बात भी कही गई है। इस कार्यकम में बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के मुख्य संयोजक नवनीत चाँद,सह सयोजक अमित पीटर, शहर सयोजक शोभा गंगोत्री,एकता रानी ,सी एच भारती, परवीन कुरेशी,शलेन्द्र वर्मा,नानगुर ब्लाक सयोजक विकास मांझी ,बबलू, पदमा नाग,सीमा नाग,बबली लुइश गीता बघेल,कांता रानी,एम जगदम्बा राव,साहिल दास,सुनीता दास ,साहिल दास ,नटवर कुवाबत,चंचला राव ,नाजिया अंसारी,मिलनी पवारआदि उपस्थित थे ।

Related posts

Leave a Comment