हाथरस की घटना से योगी ने बलात्कारियों को संदेश दे दिया कि वह उनके साथ है, तभी बलरामपुर में वैसा ही हुआ और आगे भी …..विकास उपाध्याय

रायपुर। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने हाथरस के बाद यूपी के ही बलरामपुर में एक 22 वर्षीय लड़की का गैंगरेप और मर्डर को उससे भी ज़्यादा भयावह बताया और कहा की योगी सरकार में लगातार दूसरी दलित लड़की का गैंगरेप होना इस बात को बताता है कि यूपी में अब बेटियाँ सुरक्षित नहीं हैं

और योगी सरकार में बलात्कारी पूरी तरह से बेखौफ हो गए हैं। उन्होंने कहा हाथरस में 14 सितंबर को एक 20 वर्षीय लड़की के साथ गैंगरेप में जिस तरह से योगी सरकार ने आरोपियों के पक्ष में रुचि दिखाई उसी का नतीजा है कि अब ये घटनाएं लगातार हो रही हैं।

 

 

 

विकास उपाध्याय ने उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में घटित एक और गैंग रेप को योगी सरकार की दलित लड़कियों पर अत्याचार बताया है। उन्होंने कहा कि इस बार यूपी के बलरामपुर में रेप के बाद उसके पैर, कमर को कुचल दिया गया।

इसके बाद उसे ज़हर भरा इंजेक्शन दे कर रिक्शा में पीड़िता को उसके घर भेजने की घटनाक्रम से ही स्पष्ट है कि यूपी में बलात्कारी कितने बेखौफ हैं और मुख्यमंत्री योगी इसके बदले सिर्फ पीड़ित परिवारों को मुवावजा की घोषणा कर सफल राजतंत्र को परिभाषित करने का परिचय दे रहे हैं। दुर्भाग्य है ऐसी सरकार का जहाँ बेटियाँ सुरक्षित नहीं हैं।

 

 

 

विकास उपाध्याय ने कहा हाथरस में 14 सितंबर को एक दलित लड़की के साथ जो कुछ हुआ और योगी पुलिस का भयावह चेहरा पूरे देश ने देखा कि वह किस तरह से पीड़ित परिवार के साथ व्यवहार कर रही है,

उसी का परिणाम है कि यूपी में बलात्कारी निश्चिंत हो गए हैं कि योगी सरकार उनके साथ है और एक के बाद एक इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने उतारू हैं। विकास उपाध्याय ने कहा जो योगी राज में बेटी होना अभिशाप बन गया है।

 

बेटियों की रक्षा नहीं कर सकते तो सत्ता छोड़ दो योगी जी! हमें आपसे इस्तीफा माँगने की जरूरत नहीं पड़नी चाहिए। ये तो आपके खुद की अंतरात्मा की आवाज होनी चाहिए।

Related posts

Leave a Comment