प्रदेश में बांटी जाएंगी मुफ्त दवाइयां, अस्पतालों में बेड की स्थिति होगी सार्वजनिक, दिन में अब सिर्फ एक मेडिकल बुलेटिन – कोरोना संकट के बीच CM भूपेश बघेल का बड़ा फैसला

रायपुर:कोरोना संकट के बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बड़ा फैसला, छत्तीसगढ़ में बांटी जाएंगी मुफ्त दवाइयां l मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की समीक्षा बैठक में आज बड़ा फैसला लिया गया। समीक्षा बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार अब प्रदेशभर में मुफ्त में दवाइयां बांटी जाएंगी। इसके साथ ही कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले लोगों को भी दवाई दी जाएगी।

 

प्रदेश के बार्डर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जाएगी। बैठक में बेड की स्थिति को लेकर भी समीक्षा की गई। इसके साथ ही अस्पतालों में बेड की जानकारी भी सार्वजनिक की जाएगी, ताकि मरीजों को बेड के लिए भटकना न पड़े। फिलहाल बेड को लेकर लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। छत्तीसगढ़ विशेष लगातार अस्पतालों मे लूटमार और दवा के रेट मे अनियमिता पर नजर रखे हुए है, और समय समय पर शाशन के उच्चअधिकारियों को मिल कर उनके कर्तव्यों को उन्हें याद दिलाते रहता है l

 

कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टर दिन में दो बार मरीजों की जांच करेंगे, जिससे मरीजों की स्थिति का सही आंकलन हो पाएगा। वहीं कोरोना से होने वाली मौत और अन्य बीमारी से होने वाली मौतों की जानकारी अलग-अलग देने पर फैसला हुआ है।

 

7 सितंबर से आंगनबाड़ी केंद्रों को खोलने का अंतिम निर्णय जिलों के कलेक्टर लेंगे। कलेक्टर अपने जिले की स्थिति के अनुसार फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है। सभी केंद्रों को खोले जाने की बाध्यता नहीं है। अब से 2 की जगह 1 मेडिकल बुलेटिन जारी किया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment